आदिवासी क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओ की मांग को लेकर आदिवासियों ने किया प्रदर्शन

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

अमित मिश्रा

सोनभद्र। सोनभद्र का अति पिछड़ा आदिवासी क्षेत्र की विगत 20 वर्ष से खराब सड़कों के नवीनीकरण, जोगी डीह स्टेशन के दोनों तरफ की सड़कों के निर्माण किए जाने, ग्राम पंचायत बेलछ में किसानों मजदूरों के खेत की सिंचाई एवं आत्मनिर्भर बनाए जाने हेतु टेढ़ुआ नाला पर केरवा बाध का निर्माण किए जाने एवं आदिवासी क्षेत्र में विद्युतीकरण की मांग को लेकर आज जिलाधिकारी कार्यालय पर सैकड़ो आदिवासियों ने आदिवासी विकास मंच सोनभद्र के माध्यम से प्रदर्शन कर ज्ञापन जिला अधिकारी को संबोधित उप जिलाधिकारी को दिया गया।

आदिवासी विकास मंच के संयोजक हरदेवनारायण तिवारी ने कहा कि आदिवासी क्षेत्र रेणुका नदी पार रेणुका नदी पर बने नए पुल से परसोई तक ,अरंगी से फफड़ा कुंड रेलवे ब्रिज तक अरंगी से मैराडाड़, काश पानी चंचलानिया बभनी तक सड़क का निर्माण बिगत 20 वर्ष पूर्व हुआ था जो पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है जिसके कारण इस आदिवासी क्षेत्र में 15 वर्ष से एंबुलेंस सेवा नहीं पहुंच पा रही है इन सड़कों का नवीनीकरण डीएमएफ अथवा सी एस आर के माध्यम से कराए जाने की मांग किया यह क्षेत्र ओबरा परियोजना से निकट है तथा इस क्षेत्र के सैकड़ो आदिवासी डाला बिल्ली बड़ी पत्थर खदानों में काम करते समय अपने जान को गंवा चुके हैं लेकिन सुविधा के नाम पर इन आदिवासियों को कुछ नहीं मिल रहा है ।

जोगी डीह रेलवे स्टेशन के दोनों तरफ सड़क का निर्माण न होने से रेलवे विभाग द्वारा रेलवे क्रॉसिंगन का निर्माण नही करा रहा है। रेलवे विभाग ने स्पष्ट रूप से लिख कर दिया है कि जब तक दोनों तरफ से सड़क नहीं बन जाती तब तक रेलवे क्रॉसिंग की कार्रवाई नहीं किया जा सकता इसलिए कोड़रा स्कूल से जोगीडीह स्टेशन तक तथा जोगीडीह स्टेशन से बेलगुड़ी होते हुए खुटहा ,बड़वान, रजनी तक कच्ची सड़क है इसको पक्की सड़क बनाई जाय।

ग्राम पंचायत बेलछ में किसानों मजदूरों की खेती की सिंचाई करने टेढ़ुआ नाला पर केरवा बांध का निर्माण किए जाने आदिवासी क्षेत्र में विद्युतीकरण प्रमुख मांगों को लेकर इस आदिवासी क्षेत्र के लोगों ने विगत लोकसभा चुनाव में भाग न लेने का निर्णय लिया था जो जिला प्रशासन के आश्वासन एवं मंच के अपील पर लोगों ने अपने मत का प्रयोग किया तथा लोकतंत्र के प्रति आस्था व्यक्त किया।

आदिवासी विकास मंच के सह संयोजक लक्ष्मण यादव, रामचंद्र गौड़, कामरेड लालचंद , सूबेदार गौड़, बीरेन्द्र उपाध्याय की उपस्थिति में एसडीम के साथ सभी बिंदुओं पर वार्ता हुआ और उन्होंने भरोसा दिया की आदिवासी विकास मंच सोनभद्र द्वारा दिए गए सभी सड़कों का निर्माण डीएमएफ फंड से कराया जाएगा तथा अन्य सभी मांगों पर सार्थक कार्रवाई करने का भरोसा दिया।

इस प्रदर्शन में मुख्य रूप से भोला यादव, रामविलास दुबे, रामनरेश खरवार, राम प्रसाद खरवार, कांति देवी, हीरावती देवी, कौशल्या देवी ,कृष्णावती देवी, कुंती देवी ,मुन्नी देवी, राजाराम भारती, ईश्वर प्रसाद केसरी, फुलवंती देवी, पाल भैयालाल, लालजी साहनी ,मनोज केसरी, दीनानाथ ,रामदास , आदि प्रमुख पदाधिकारी ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

Leave a Comment