चकबंदी लेखपाल चक सही करने के नाम पर ले रहा था एक लाख घूस।

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

रुपया पकड़ते ही एंटी करप्शन टीम ने दबोचा

आजमगढ़ (उत्तर प्रदेश)। एंटी करप्शन यूनिट ने एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए चकबंदी लेखपाल को गिरफ्तार किया है। आरोपी लेखपाल चकबंदी में चक सही कराने के नाम पर पीड़ित से एक लाख की रिश्वत की मांग कर रहा था। आरोपी द्वारा पैसे की मांग किए जाने को लेकर पीड़ित ने मामले की शिकायत आजमगढ़ की एंटी करप्शन यूनिट से की थी। इसके बाद एंटी करप्शन यूनिट में आरोपी को रंगे हाथ गिरफ्तार करने का प्लान बनाया। जिसके तहत आरोपी की गिरफ्तारी की गई।

आजमगढ़ जिले के थाना कोतवाली क्षेत्र के हीरा पट्टी के रहने वाले अब्दुल्ला इम्तियाज ने चकबंदी लेखपाल अरविंद कुमार यादव से चकबंदी में चक सही करने की बात की थी। इसके बाद आरोपी चकबंदी लेखपाल अरविंद कुमार यादव ने पीड़ित अब्दुल्ला इम्तियाज से चक सही कराने के लिए एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की। आरोपी चकबंदी लेखपाल द्वारा रिश्वत की मांग किए जाने के मामले को लेकर पीड़ित ने इस मामले की शिकायत एंटी करप्शन यूनिट से की। पीड़ित की शिकायत पर एंटी करप्शन यूनिट ने आरोपी को रंगे हाथ गिरफ्तार करने का प्लान बनाया। इस प्लान के तहत अब्दुल्ला इम्तियाज आरोपी को 100000 की रिश्वत देने आरोपी चकबंदी लेखपाल के घर गए। आजमगढ़ जिले की एंटी करप्शन यूनिट में पहले से ही नोटों पर केमिकल लगा दिया था जैसे ही आरोपी लेखपाल ने पीड़ित से पैसे लिए ऐसे में अलर्ट मोड में रही एंटी करप्शन आरोपी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Comment