आखिरी क्यो डुबोया कलयुगी मां ने चार बच्चो को नदी में, तीन की मौत

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

ग्रामीणों ने दौड़कर एक बच्चे की जान बचाया

औरैया। घरेलू विवाद के बाद कलयुगी मां ने अपने चार बच्चों को नदी में डुबाकर मारने की कोशिश की। जिसमें तीन बच्चों की मौत हो गई जबकि चौथा बच गया। घटना के बाद से मां फरार हो गई। पुलिस ने तीनों बच्चों के शव बरामद कर लिए है। घटना के कुछ घंटे बाद पुलिस ने मां को भी हिरासत में ले लिया है। जिससे पूछताछ की जा रही है।

फफूंद थाना क्षेत्र के गांव अटा बरूआ निवासी 27वर्षीय प्रियंका की शादी इटावा के बसरेहर निवासी अवनीश से हुई थी। जिससे चार बच्चे है। दो साल पहले पति अवनीश की करंट लगने से मौत हो गई। इसके बाद प्रियंका चचेरे देवर औरैया निवासी आशीष के साथ पत्नी के रूप में साथ रहने लगी। कुछ दिनों से दोनों में विवाद हो रहा था। इस पर गुरुवार की सुबह प्रियंका अपने चार बच्चों को लेकर घर से निकल पड़ी और ऑटो करके केश्मपुर में सेंगर नदी के घाट पर पहुंच गई। जहां से प्रियंका ने अपनी ताई गीता को फोन करके कहा की वह मरने जा रही है और फोन काट दिया। ताई गीता तलाशने औरैया गई लेकिन प्रियंका घर पर नही मिली। इधर प्रियंका ने चारों बच्चो को कुछ नशीला पदार्थ खिलाकर नदी में डूबो दिया। ग्रामीणों को आते देख वह वहां से भाग गई। सूचना पर पुलिस पहुंची और ग्रामीणों ने एक आठ साल के बच्चा सोनू को बाहर निकाला जिसने नाम पता और घटनाक्रम बताया।

इस पर परिजनों को सूचना दी गई, गोताखोर ने नदी से छह साल के आदित्य और चार साल के माधव व डेढ़ वर्षीय मंगल के शव को बाहर निकाल लिया। सूचना पर एसपी चारु निगम भी पहुंच गई और मामले की जांच पड़ताल की। वही पुलिस ने आरोपी मां प्रियंका को भी हिरासत में ले लिया है। जिससे पूछताछ की जा रही है। एसपी चारु निगम ने बताया की घटना के सही कारणों का पता लगाया जा रहा है।

Leave a Comment