स्थायी लोक अदालत ने ऋषिकेश को दिलाया न्याय, मिली बीएस 6 बाइक

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

राजेश कुमार पाठक

  • राबर्ट्सगंज कचहरी परिसर स्थित एडीआर भवन में संचालित स्थाई लोक अदालत में हुआ सुलह समझौता

सोनभद्र। जिला कचहरी परिसर स्थित एडीआर भवन में संचालित स्थाई लोक अदालत ने बुधवार को सुलह समझौता के आधार पर प्रबंधक महाबीर ऑटो सेल्स रामगढ़ से वादी सरई, रामगढ़ निवासी ऋषिकेश को नई बाइक रजिस्ट्रेशन कागज और इंश्योरेंस के साथ दिलवाया। करीब दो साल बाद स्थायी लोक अदालत के हस्तक्षेप पर यह सफलता मिली।


बता दें कि पन्नूगंज थाना क्षेत्र स्थित सरई, रामगढ़ निवासिनी ऋषिकेश पुत्र रामदुलारे ने 21 जुलाई 2022 को स्थाई लोक अदालत में मुकदमा दायर किया था। जिसमें अवगत कराया था कि एक मार्च 2020 को महाबीर ऑटो सेल्स रामगढ़ से एक नई बाइक 64 हजार रुपये में खरीदा था और कहा गया कि 15 दिन के अंदर गाड़ी का रजिस्ट्रेशन कागज और बीमा कागज आकर ले जाना। जब अपना कागज लेने गया तो कहा गया कि 31 मार्च 2020 तक बीएस-4 गाड़ी का रजिस्ट्रेशन बंद हो जाएगा। इसलिए कंपनी में बहुत गाड़ी हैं बेच लेने दो। बाद में अपना गाड़ी का कागज ले जाना। इसके बाद से आज कल कहकर टाल मटोल कर रहे हैं। गाड़ी के कागज के अभाव में गाड़ी चल भी नहीं रही है।

22 फरवरी 2022 को जरिए अधिवक्ता नोटिस भेजा गया फिर भी गाड़ी का कागजात नहीं दिया गया। तब मजबूर होकर स्थाई लोक अदालत की शरण मे आना पड़ा। प्रबंधक महाबीर ऑटो सेल्स रामगढ़ द्वारा सुलह समझौता के आधार पर मामले का निस्तारण करते हुए करीब दो साल बाद वादी ऋषिकेश को स्थाई लोक अदालत अध्यक्ष नरेंद्र बहादुर प्रसाद द्वारा नई बीएस-6 बाइक रजिस्ट्रेशन कागजात के साथ दिया गया।

स्थायी लोक अदालत के अध्यक्ष नरेंद्र बहादुर प्रसाद ने बताया कि इस अदालत में जनहित सेवाओं से संबंधित मामले जैसे बिजली ,पानी ,अस्पताल, रियल स्टेट, परिवहन ,बीमा ,शिक्षा, शैक्षणिक संस्थाएं ,डाक,नगर पालिका आदि के मुकदमे बिना किसी कोर्ट फीस के देखे जाते हैं।

इस मौके पर स्थाई लोक अदालत के सदस्य नीरज सिंह, आशीष मिश्रा, अधिवक्ता जे.एस.त्रिपाठी, दीपन आदि उपस्थित रहे।

Leave a Comment