बैंक जनता के साथ करे सकारात्मक व्यवहार, सरकारी योजनाओं का दें लाभ:जिलाधिकारी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

अमित मिश्रा

सोनभद्र। जिले को पिछड़ेपन से बाहर करने के लिए बैंक जनता के साथ सकारात्मक सहयोग करें और बैंक जनता के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार करते हुए रोजगार परक योजनाओं में अपनी अहम भूमिका निभाये। उक्त बातें जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने  कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में बैंकों की जिला सलाहकार समिति के सम्बन्ध बैंक मैनेजर व सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की।

इस दौरान उन्होंने कहा कि बैंक जनता के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार करते हुए रोजगार परक योजनाओं को मूर्त रूप देने में सकारात्मक सहयोग कर जिले के विकास में सार्थक भूमिका निभाएं। जिले के सभी बैंक भारत सरकार और रिजर्व बैंक आफ इण्डिया के दिशा-निर्देशों के अनुरूप सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के लाभार्थियों के प्रति नियमित जिम्मेदारी के साथ ही मानवीय नैतिकता भी निभायेें और जिले को पिछड़ेपन से बाहर करने के लिए बैंक जनता से सकारात्मक सहयोग करना सुनिश्चित करें। बैंक अपने कार्यों में सुधार लायें, अन्यथा की दशा में कार्यवाही का सामना करने के लिए तैयार रहें।

उन्होंने कहा कि बैठक में बैंक मैनेजर द्वारा स्वयं उपस्थित न होकर छोटे कर्मचारी को भेजा जाता है, जिन्हें विभागीय जानकारी न होने के साथ ही योजनाओं की जानकारी नहीं रहता, जो लापरवाही का द्योतक है। बैठक में अनुपस्थित मैनेजर के खिलाफ नोटिस जारी करने के साथ ही अगली बैठक में उपस्थिति के लिए सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जो बैंकर्स जनता के भलाई के लिए काम नहीं कर रहें हैं, वे अपने कार्यों में सुधार लायें अन्यथा की दशा में कार्यवाही के लिए स्वयं जिम्मेदार होंगें।

इस मौके पर जिलाधिकारी ने केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजना जैसे-वार्षिक ऋण योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना एवं पशुपालकों/मत्स्य पालकों को केसीसी की प्रगति, वसूली प्रमाण पत्रों की प्रगति, राष्ट्रीय ग्रामीण व शहरी आजीविका मिशन की प्रगति, पीएम स्वनिधि योजना की प्रगति, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद की प्रगति, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार की प्रगति, मुख्यमंत्री मॉटीकला रोजगार, बाबा साहब अम्बेडकर रोजगार प्रोत्साहन, एग्री इन्फ्रास्ट्रक्चर फण्ड, धानमंत्री फसल बीमा योजना, वित्तीय परामर्शदाता केन्द्र की प्रगति, इण्डबैंक ग्रामीण स्व-रोजगार प्रशिक्षण संस्थान के संचालन एवं उसकी प्रगति, वित्तीय समावेशन एवं वित्तीय साक्षरता हेतु किये गये पहल की प्रगति, विभिन्न त्रैमासिक विवरणियों/वांछित सूचनाओं/शिकायतों के जबाब का प्रेषण आदि बिन्दुओं पर बारी-बारी से सम्बन्धित अधिकारियों से बिन्दुवार समीक्षा की।

जिलाधिकारी ने कहा कि बैंकर्स रोजगार परक योजनाओं में सहयोग करते हुए स्थानीय रोजगार को बढ़ावा दें, जिससे स्थानीय स्तर पर बेरोजगारों रोजगार से जोड़ा जा सके।

बैठक में अपर जिलाधिकारी(वि0/रा0) सहदेव कुमार मिश्र, एलडीएम , बैंक के बैंक मैनेजरगण, जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र आरपी गौतम, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र प्रसाद, जिला पंचायत राज अधिकारी नमिता शरण, प्रभारी जिला सूचना अधिकारी सुधांशु शेखर शर्मा, सम्बन्धित बैंक प्रतिनिधिगण आदि मौजूद रहें।

Leave a Comment