ईद उल अजहा पर लोगो ने ईदगाह में अता की नमाज

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

अमित मिश्रा

सुरक्षा व्यवस्था रहा चाक चौबंद एसपी ने जाना हाल

सोनभद्र। ईद-उल-अजहा के अवसर पर जिला मुख्यालय स्थित चंडी होटल के समीप ईदगाह व विभिन्न मस्जिदों में नमाज अता की गयी। ईदगाहों में नमाज अदा करने का क्रम सुबह ईदगाह पर नमाज मौलाना तौफीक अहमद द्वारा 715 से 7:30 बजे सुबह नमाज़ पढ़ाए गए। वही बड़ी संख्या में मुस्लिम धर्माबलम्बियों ने नजदीकी मस्जिदों में पहुंचकर नमाज अदा की। जिसके बाद एक-दूसरे को गले लगाकर जश्न की बधाई दी।


सदर मुश्ताक खान के मुताबिक ईद का ये त्योहार कुर्बानी का त्योहार है। जो खुशी और शांति का अवसर है। इस दिन सभी लोग ईदगाह में नमाज अदा करने के लिए इकट्ठे होते हैं। परस्पर एक-दूसरे से मिलकर आपसी संबंधों को मजबूत करते हैं। त्योहार में लोग अपने परिवारों के साथ जश्न मनाते हैं। पुराने गिले-शिकवे को भुलाकर जिंदगी में आगे बढ़ते हैं।


उन्होंने बताया कि पैगंबर हजरत इब्राहिम से ही कुर्बानी देने की प्रथा शुरू हुई थी। अल्लाह ने एक बार पैगंबर इब्राहिम से कहा था कि वह अपने प्यार और विश्वास को साबित करने के लिए सबसे प्यारी चीज का त्याग करें और इसलिए पैगंबर इब्राहिम ने अपने इकलौते बेटे की कुर्बानी देने का फैसला किया था।

वहीं मौजूद इंडिया गठबंधन समाजवादी पार्टी के नवनिर्वाचित सांसद छोटेलाल खरवार, सपा जिलाध्यक्ष राम निहोर यादव ने एक दूसरे को गले लगा कर बधाई देते हुए कहा कि जब पैगंबर इब्राहिम अपने बेटे को मारने वाले थे, उसी वक्त अल्लाह ने अपने दूत को भेजकर बेटे को एक बकरे से बदल दिया था, तभी से  बकराईद अल्लाह में पैगंबर इब्राहिम के विश्वास को याद करने के लिए मनाई जाती है।

इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक कालू सिंह, सीओ सिटी डॉ चारु द्विवेदी , प्रभारी निरीक्षक सत्येन्द्र कुमार राय, फरीद अहमद , दानिश खान, हिदायतुल्ला खान, आशुतोष दुबे, एलआईयू, इंटेलिजेंट व भारी मात्रा में पुलिस फोर्स मौजूद रही।

Leave a Comment