आदिवासी युवक की पिटाई के मामले मे प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए छह दिन से अधिकारियो के दर दर भटक रहा है पीड़ित।

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

बद्री प्रसाद गौतम

-आदिवासी युवक ने रेहन पर रखे एक बिगहे भूमी पर मकान बना कर कब्जा करने पर सरंहगो ने की थी छह दिन पुर्व पिटाई।

सलखन,सोनभद्र।आदिवासी युवक को बेरहमी से पिटाई के मामले मे प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए अधिकारियो के दरबार मे दर दर भटक रहा है। शुक्रवार के दिन पीड़ित आदिवासी युवक ने पुलिस अधीक्षक को पत्र सौप कर न्याय की गुहार लगाई है। मामला रार्बटसगंज कोतवाली क्षेत्र के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र ग्राम पंचायत मकरीबारी के टोला बरेवा की है। पीड़ित सतेन्द्र बैगा पुत्र स्व: सुक्खु के मुताबिक वह अनुसूचित जनजात से बैगा समाज से आता है वह अशिक्षित है दैनिक मजदूरी कर अपने परिवार की जीवन यापन करता है बहन की शादी मे रूपये की शक्त जरूरत पड़ने पर वह संजय यादव आज्ञात निवासी वाराणसी- हाल पता मकरीबारी टोला बरिया थाना राबर्ट्सगंज जो कुछ बर्षो यहा रहता है उसे एक बिगहे भूमी एवज मे एक बर्ष पुर्व जोत कोड़ हेतू दिया था।किंतु संजय यादव नियत खराब हो गई मेरे अनपढ एव अशिक्षित होने का फायदा उठाकर अवैधानिक ढ़ंग से छल कपट कर धोखाधड़ी कर एकरार नामा करा लिया। जबकि अनुसूचित जनजातीय की भूमि क्रय करने का अधिकार किसी अन्य जाति को अधिकार प्राप्त नही है। दिनांक 09/03/2024 की सुबह तकरीबन 10 बजे संजय यादव, वहाँ के प्रधान राममूरत यादव एंव सुरेन्द्र पाल एक राय गोल बंद होकर लाठी -डंडे से लैस होकर जबरिया मेरी भूमी की नाप जोख कर मकान निर्माण करा कर कब्जा करने लगे तो प्राथी ने मना किया तो संजय यादव जातिसूचक शब्दो से माँ बहन की भद्दी गाली देते हुए लाठी डंडे मारकर पिटाई कर दिया जिससे प्राथी जख्मी हो गया। पीड़ित ने यह भी बताया की घटना के बाद अपनी लिखित शिकायती पत्र पुलिस को सौपी कोई कार्रवाई नही होने पर जिससे संजय यादव का मनोबल बढ गया वह तमाम बिल्डिंग मैटेरियल गिरावाकर तेजी से मकान निर्माण करा रहा है। आज पुलिस अधीक्षक महोदय को पत्र सौप कर जख्मो का मेडिकल परिक्षण कराकर प्राथमिकी दर्ज कराने के साथ ततकाल अवैध मकान निर्माण रुकवाने की मांग की है।

Leave a Comment

[democracy id="1"]