धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान ने राष्ट्रीय एवं प्रदेश स्तर पर किया पुनः विस्तार – योगाचार्य अजय पाठक

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

अमित मिश्रा

सोनभद्र। धन्वंतरी पतंजलि योग राष्ट्रीय कार्यकारिणी एवं ट्रस्टी में सम्मिलित मुख्य सदस्य आचार्य अजय पाठक,अनामिका अग्निहोत्री,ओलम्पिया मुखर्जी, आकृति पोखरियाल, विनय श्रीवास्तव, अंशिका पटेल, सन्दीप मद्देशिया, यसस्वी पांडेय, आयुष बंसल, वर्णिका आर्य, अंशुमान पांडेय, अनामिका सिंह, लाजो कुमारी, अपेक्षा नौटियाल, अनुराधा सिंह, ऋषिका अग्रवाल, माया कुमारी, टीनू लाखन, विजय यादव, कोमल पांडेय, धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान की संस्थापक सदस्य एवं राष्ट्रीय महिला प्रभारी फ़िजी – आयरलैंड अस्थायी निवासी अनामिका अग्निहोत्री एवं संस्थान की समस्त राष्ट्रीय महिला सह प्रभारी बहने यशस्वी, अंशिका, वर्णिका, अनामिका, ओलम्पिया मुखर्जी की सन्तुस्ति पर धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान में लाजो कुमारी को उत्तर प्रदेश का महिला राज्य प्रभारी एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य, अपेक्षा नौटियाल को राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान, देहरादून – उत्तराखंड, खुसबू रस्तोगी को उत्तराखंड का प्रदेश प्रभारी धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान, आकांक्षा सिंह को उत्तर प्रदेश का महिला सह प्रभारी उत्तर प्रदेश एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, प्रतिमा मौर्य को जिला प्रभारी सोनभद्र, रिया कन्नौजिया को धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान दिल्ली राज्य का प्रदेश प्रभारी, शम्भावी यादव को धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान का राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य शांतिकुंज हरिद्वार, रैना दुबे को धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान मध्यप्रदेश राज्य का प्रदेश सह प्रभारी, टीनू लाखन को मध्यप्रदेश का धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान का प्रदेश प्रभारी,खुसबू सिंह को धन्वंतरी पतंजलि योग संस्थान का जिलासह प्रभारी सोनभद्र उत्तर प्रदेश के रूप सभी सदस्यों नामित किये गए । लगातार संस्थान के सभी पदाधिकारियों ने संस्थान के मूल उद्देश्य के पूर्ति के योग, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति , एक्युप्रेशर चिकित्सा पद्धति एवम जनकल्याण के आम जन मानस को समाज एवम स्वास्थ्य के प्रति विभिन्न जिले, प्रदेशों के साथ के साथ इंटरनेशनल लेवल पर धन्वंतरी पतंजलि संस्थान के लोगो के माध्यम से जनजागरण अभियान चलाया जा रहा है । संस्थान की इकाई विभिन्न देशों एवमं प्रदेशों में जैसे नेपाल देश, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, हिमांचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, राजस्थान, जम्मूकश्मीर, हरियाणा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, झारखंड में लोगो जनजागरूकता के माध्यम से लोककल्याण का कार्य कर रही है । संस्थान के संस्थापक व संयोजक योग गुरु आचार्य अजय कुमार पाठक कहना है संस्थान स्वास्थ्य जागरूक के साथ साथ ऋषि परम्परा और अपनी मूल परम्परा को जीवित रखने के लिए सोनभद्र गुरुकुल शिक्षा पद्धति की स्थापना करना चाहते है, जिससे भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता सदैव जीवित रहे ।

Leave a Comment

[democracy id="1"]