सोनभद्र के जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह के द्वारा चलाए गए प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन पर किए गए कार्य की सराहना

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

लखनऊ (उत्तर प्रदेश) राष्ट्रीय स्तर के कॉन्फ्रेंस में सोनभद्र की ग्राम प्रधान जुगल ने मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी अभियान का किया प्रस्तुतीकरण
भारत सरकार द्वारा लखनऊ के सेंट्रम होटल में दो दिवसी पेयजल एवं स्वच्छता पर राष्ट्रीय स्तर का कार्यशाला आयोजित किया है। जिसमें भारत के सभी प्रदेशों के राज्य स्तर के प्रतिनिधि द्वारा प्रतिभा किया गया। जिसमें जनपद सोनभद्र में जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह के द्वारा चलाए गए प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन पर किए गए कार्य की सराहना की तथा ग्राम प्रधान जुगैल द्वारा मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी अभियान का प्रेजेंटेशन किया गया। जिसमें ग्राम प्रधान सुनीता यादव द्वारा बताया गया कि बिना पैसे खर्च किए हम घरों पर बोरी टांग कर प्लास्टिक को खुले वातावरण में जाने से रोक रहे हैं। जिससे कि हम पर्यावरण के साथ-साथ पशुधन को भी प्लास्टिक के खतरे से बचा रहे हैं। आज जनपद के अधिकतर घरों में प्लास्टिक की बोरियां टांग कर लोग उसमें प्लास्टिक रख रहे हैं तथा बोरी में से प्लास्टिक निकालकर उसका निस्तारण किया जा रहा है। उन्होंने पेयजल स्वच्छता मंत्रालय के सचिव से अनुरोध किया कि इस अभियान को पूरे देश में लागू किया जाए सिर्फ यही एक व्यवस्था है जिससे हम घरों पर प्लास्टिक संकलित कर सकते हैं। इस कार्यक्रम में सभी प्रदेशों के अधिकारी गण भारत सरकार के सचिव, जॉइंट सेक्रेटरी, निदेशक एसबीएम सहित पंचायती राज उत्तर प्रदेश के समस्त अधिकारी के साथ रामजियावान राम उपनिदेशक पंचायत मिर्जापुर मंडल, डीपीआरओ विशाल सिंह, डीसी अनिल केशरी और किरण सिंह के साथ ग्राम प्रधान जुगैल सुनीता यादव सचिव दीपक पांडे उपस्थित रहे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]