11 हजार विधुत प्रवाह लटकते तार दुर्घटना को दे रहे दावत विभाग बना मौन।

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

बद्री प्रसाद गौतम

सलखन सोनभद्र सदर विकास खण्ड क्षेत्र के अन्तर्गत मारकुंडी मुख्य राज मार्ग स्थित मारकुंडी मोड़ से अण्डर ग्राउंड रेलवे पुलिया,वाटर सप्लाई पम्प हाउस तक 11 हजार विधुत प्रवाह पावर लटकते लाइन तार किसी बड़े दुर्घटनाओं को दावत दे रहा है,जब की इस सम्बंध में विधुत उपभोक्ताओं समेत किसानों ने सम्बंधित विभागीय अधिकारियों को लिखित मौखिक एवं समाचार पत्रों के माध्यम से दर्जनों बार अवगत कराया गया है। लेकिन सम्बंधित विभागीय अधिकारी आज तक मौन बना किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार कर रहे हैं।
उक्त सम्बंध में रैन सिंह, संतोष मिश्रा, संजय गोस्वामी,नैन सिंह, रामजी, कमलेश राममूरत यादव इत्यादि लोगों ने बताया कि मारकुंडी मोड़ से गुरमा जिला जेल मुख्य मार्ग से सटे लटकते विधुत प्रवाह तार जमीन से महज लगभग सात से आठ फीट जमीन से 11 हजार विधुत प्रवाह तार भारी वाहनों समेत किसानों के अनाज भरे ट्रैक्टरों के लिए हमेशा दुर्घटना बनी रहती है। वहीं विधुत पोल भी मानक तय के अनुसार खड़ा न कर के दो पोलों के बीचोंबीच की दुरी लगभग 70 से 80 फीट की दुरी भी लटकते तार के कारण बने हैं। लोगों के शिकायत के बावजूद भी लटकते तार को न ही टाईट कराया गया और न ही आज तक कोई पहल ही किया गया है। जिससे आम जनमानस में जन आक्रोश व्याप्त है। उक्त सम्बंध में सम्बंधित विभागीय उच्चाधिकारियों का ध्यान आपेक्षित है।

Leave a Comment

[democracy id="1"]