घोरावल और म्योरपुर सीएचसी के अधीक्षकों को प्रतिकूल प्रविष्टि

Share this post

बैठक में स्वास्थ्य अधिकारियों को कार्यो में धीमी प्रगति पर दी कड़ी चेतावनी

सोनभद्र। जिला स्वास्थ्य समिति शासी निकाय की बैठक
जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने आज कलेक्ट्रेट सभागार मे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ किया। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का महिला प्रसव व आपरेशन के द्वारा प्रसव की प्रगति की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान यह तथ्य संज्ञान में आया कि म्योरपुर चिकित्सा अधीक्षक डाॅ0 शिशिर द्वारा महिलाओं के आपरेशन प्रसव के मामले में शिथिलता बरती जा रही है, मरीज को अन्यत्र अस्पताल हेतु रिफर किया जा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने चिकित्सा अधिक्षक म्योरपुर व घोरावल को प्रतिकूल प्रविष्टि देने हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया।

इसी प्रकार आयुष्मान कार्ड के निर्माण कार्य के प्रगति की समीक्षा भी जिलाधिकारी ने की, तो यह तथ्य संज्ञान में आया कि आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रगति धीमी है, जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए आयुष्मान कार्ड के नोडल अधिकारी डाॅ0 सुमन जायसवाल के स्थान पर किसी और डाॅक्टर को नोडल अधिकारी बनाने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिये। इसी प्रकार आयुष्मान कार्ड के धीमी प्रगति डीआईओएम डाॅ0 स्नेहा मंजुल, रजत मिश्रा, जितेन्द्र को भी आयुष्मान कार्ड के निर्माण कार्य की धीमी प्रगति हेतु चेतावनी जारी करने के निर्देश दियें।

इसी प्रकार जिलाधिकारी ने आरबीएसके टीम द्वारा जनपद में किये जा रहे कार्यों के प्रगति की समीक्षा डाॅ0 प्रेमनाथ से की तो यह तथ्य संज्ञान में आया कि आरबीएसके टीम द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रगति संतोषजनक नहीं है, जिस पर जिलाधिकारी ने डाॅ0 प्रेमनाथ को चेतावनी देने के निर्देश दियें। इसी प्रकार आरसीएच के प्रभारी डाॅ0 आरजी यादव एसीएमओ से जच्चा-बच्चा से सम्बन्धित योजनाओं के प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली, तो योजनाओं का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से नहीं पाया गया, जिस पर जिलाधिकारी ने एसीएमओ डाॅ0 आरजी यादव को भी चेतावनी जारी करने के निर्देश दियें।

इसी प्रकार जिलाधिकारी ने महिला नसबन्दी व पुरूष नसबन्दी के प्रगति की भी समीक्षा की, समीक्षा के दौरान महिला व पुरूष नसबन्दी की स्थिति संतोषजनक नहीं पायी गयी, जिस पर जिलाधिकारी ने इसके प्रभारी डाॅ0 दिनेश को भी चेतावनी जारी करने के निर्देश दियें। एमसीटीएम में तैनात आपरेटर द्वारा आरसीएच के डाटा फीडिंग कार्य में तेजी लायें, अन्यथा की दशा में प्रगति की स्थिति में सुधार न पाये जाने पर सम्बन्धित की सेवा समाप्ति की कार्यवाही की जायेगी।

जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान उपस्थित अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि जननी सुरक्षा योजनान्तर्गत महिलाओें का प्रसव सम्बन्धित सामुदायिक स्वास्थ्य, प्राथमिक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में किया जाये, जहां पर प्रसव आपरेशन की सुविधा उपलब्ध हो, आवश्यकतानुसार उसी केन्द्र पर ही उनका प्रसव कराया जाये, अनावश्यक रूप से मरीजों को रिफर न किया जाये, जिन अस्पतालों को प्रसव हेतु लाइसेंस प्राप्त नही हुआ है, यह सुनिश्चित किया जाये, उन अस्पतालों में प्रसव कदापि न होने पाये, जिन अस्पताल में बिना लाइसेंस के प्रसव होना पाये, उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

Ravi pandey
Author: Ravi pandey

Related Posts

Live Corona Update

Advertisement

Advertisement

Weather

+43
°
C
+45°
+37°
Delhi (National Capital Territory of India)
Wednesday, 30
Thursday
+44° +35°
Friday
+42° +35°
Saturday
+43° +34°
Sunday
+43° +35°
Monday
+44° +36°
Tuesday
+45° +36°
See 7-Day Forecast

 

Live Cricket Updates

Stock Market Overview

Our Visitors

0 0 5 7 8 1
Users Today : 22
Users This Month : 302
Total Users : 5781
Views Today : 39
Views This Month : 588
Total views : 12587

Radio Live